Meri maa (me janataa hu tum kaun ho)

मैं जानता हूँ तुम कौन हो तुम वो हो जिसे काम करना पसंद हो न हो पर फिर भी काम करती हो जिसे मेरी हर छोटी बात पता है मुझे बताती भी है पर मैं मानो न मानो तुम फिर भी जतन करती रहती हो कि मेरी जिंदगी में मैं वो न देखूँ जो तुमने देखा है मुझे कुछ ऐसा झेलना पड़े जो तुमने बहुत मुश्किलों से समझ कर सहेज कर चीज़ें की हैं मैं नहीं मानता कोई तुमसा हसीं हो सकता है, मैं नहीं मानता कोई तुमसा जेहनसी हो सकता है मैं नहीं मानता कोई तुमसा संगीन हो सकता है मैं नहीं मानता कि कोई ऐसा इंसान मेरी जिंदगी में आज तक भी ताल्लुक रखता है सेवा 1 शख्स के तुम्हारा होना मेरे वजूद मेरे होने की निशानी है हर चीज की जुबानी है जिसे पता है कि मुझे कब कहाँ क्या चीज चाहिए जिसे पता है कि मेरी अधूरी बातों को पूरी कैसे करना है, जिसे पता है कि छाया कैसे देनी है तुम वो पेड़ हो जो मुझे छाया देते हो, खाने को रोटी देते हो, रहने को घर देती हो और फिर कुछ आदतें जिससे मैं अपनी जिंदगी को 1 सही ढंग से जीता हूँ जिससे मुझे पता चलता है कि मैं कैसा हूँ कौन इसीलिए तो मैं जानता हूँ तुम कौन हो तुम मेरी माँ हो।

#maa #merimaa #story #freestylepoetry

Sreeja V
@Wordsmith · 0:19
कविता dil co गई i think it its beautiful sort of you know tribe to mothers all over the world बहुत ही अच्छा लगा सुनकर आपने अपनी माँ को सुनाया उनका क्या feedback।
sarandeep singh
@whysaran · 3:34

@Wordsmith

बताने के बावजूद भी वो खुश थे। उनकी आंखें बता रही थीं? बाकी? दिस? इज? आल? जो भी फीडबैक में। उन्होंने दिया? थैंक यू? फॉर? रिलेशनिंग? this? and replying? particularly? and i? hope? i will meet? some time? later? also? at this? platform? and colab? ideachatranigiv? some very good things? to the people? around her? okay? thank you? by?
shilpee bhalla
@Shilpi-Bhalla · 1:05
ह**ो गुड मॉर्निंग आपकी कविता बहुत बहुत प्यारी है और जो आपने मां के लिए जो शब्द कहे हैं वो दिल को छू लेने वाले हैं 2 वर्ल्ड्स मैं भी आपकी कविता पर कहना चाहूंगी देने वाले ने हम पर कितना एहसान किया है देने वाले ने हम पर कितना एहसान किया है इस बेरहम दुनिया में हम सबको मासा भगवान दिया है मां सब की बहुत प्यारी होती है और मैं इतना ही कहना चाहूंगी कि माँ का साथ हमेशा सबके साथ बना रहे ये दुनिया में रहती है हमेशा तो हमारे साथ रह नहीं सकती क्योंकि सिस्टम ही कुदरत का ऐसा है कि यह बहुत मुश्किल यह है कि सबकी मां सारी जिंदगी साथ रहे पर वो जो एहसास, वो जो प्यार, वो जो चीजें हमें सिखा जाती है न जिंदगी में वो हमेशा हमारे साथ रहती है और इसी रूप में वो हमेशा हमारे साथ जिंदा रहती है सो आप ऐसे और अच्छा अच्छा लिखते रहिये आल द वेरी बेस्ट।