Vo tarikki kis kaam ki😊

बेशक? मुझे काफी ऊंचाई पर जाना है जिंदगी में। लेकिन जहाँ से मुझे तुम न दिखो? वो तरक्की किस काम की? माँ? नमस्कार दोस्तों। मेरा नाम है। मनीष लिखता हूँ। हानि कहानी मेरी लिखी? माकरी लिखी। मैंने के बेशक? बचपन से ही मेरा बड़ा शौक था कि मैं बहुत बड़ा इंसान बन जाऊँ। मैं काफी तरक्की करूँ जिंदगी में। और कुछ हद तक। मैंने अपने सपनों को साकार किया भी और कंटिन्यूस में। कर रहा हूँ हर दिन रात कर रहा हूँ।

#mother #love #maa #missingyou #iloveyou #mata #mother

shilpee bhalla
@Shilpi-Bhalla · 2:00
और जब आज वही सब सब्जियां वही सब चीजें हमारे लिए लग्जरी होती हैं तो हर चीज के 2 पहलू होते हैं। तो मुझे लगता है कि हमेशा हमें उसके सकारात्मक पहलू को ही तवज्जो देनी चाहिए और जिंदगी को इस उत्सव को बड़े दिल से ही मनाते जाना चाहिए। बाकी सेल सीरियसली बहुत अच्छा था।
Mousumi Roy
@bayleaf · 2:04
गुड? इवनिंग? मनीष? आज का टॉपिक। आपका। बहुत ही अच्छा था। बहुत ही इमोशनल था। मैं सिर्फ ये कहना चाहती हूं? देखिये दोस्त कुछ पाने के लिए। कुछ खोना तो पड़ता ही है। और रही मां की बात। मां का दर्जा तो सबसे ऊपर होते हैं। सब से ऊपर। चाहे। आप कितनी भी ऊंचाइयों पर चढ़ जाए। आप। माँ के माँ जहाँ पर बैठे होते हैं आप वहां तक कभी भी नहीं पहुंच सकते। मुझे अच्छा लगा सुनकर कि आपको एहसास है। माँ का। वैल्यू? क्या है? आपके?