@abhi_quiller018
Abhinav Agrawal
@abhi_quiller018 · 1:59

मां अब हिम्मत टूट रही हैं

article image placeholderUploaded by @abhi_quiller018
welcome silcastrstonaderswel i know this n got kind led because as you guys no सभी के एग्जाम्स चल रहे हैं एग्जाम्स के अलावा मेरी लाइफ तहस नहस हो चुकी है लाइक its really mestpराइटनोसो ऑवियसली जब हमारा बुरा वक्त चलता है तो हम कैसे याद करते हैं या यू गॉट द राइट हम भगवान को याद करते हैं और न जाने क्यों आपकी बार मेरे दिमाग में सबसे पहले नाम माता रानी का आया तो 1 कविता लिखा हूँ उनके लिए आइए आपके समक्ष प्रस्तुत करता हूँ माँ अपनी तू आजा हिम्मत टूट रही है मां अब तू आजा हिम्मत टूट रही है अब सारी उम्मीदें अब छूट रही हैं माता अकेले पन की बंदिशों अब ढूंढ रही हैं माता अकेले पन की बंदिशें अब ढूंढ रही हैं सारी खुशियां अब कोई चीज लूट रही है माँ मैं भटक रहा हूँ माँ मैं भटक रहा हूँ दर्द से तड़प रहा हूँ डर डर से पैर अब कांप रहे हैं डर से पैर अब काप रहे हैं माँ अब हिम्मत हार रहे हैं मां हाथ थाम लो अब न हो पाएगा भक्त तेरा अब बिना आगे तेरे बढ़ ना पाएगा रोना चाहता हूं मगर आंसू अपना आते हैं टूट रहा हूं यही अक्सर समझ में हमको आते हैं तेरे चरणों को छूकर मैं खुश हो जाऊंगा तेरे चरणों को छूकर मैं खुश मा हो जाऊंगा तेरे को खुश कर वर्ग पा जाऊँगा तेरे आँचल में चैन की नींद में पाऊंगा मां तेरा गुणगान कर ही जीवन अपना बिताऊँगा थैंक यू।

#CollegeVoiceIndia #MaaDurga #Son #Love #Mother #Goddess #Hindi #Hindu #Sanatan

7
@sapma
meenu Malik
@sapma · 1:35
और रोना भी चाहते हैं? तो संघर्ष इतना करते हैं कि सभी नहीं आ पाते। लेकिन 1 माता 1 भगवान का रूप ही है। जो हमारा साथ देता है। उसी को। अगर हम इस तरह से पुकारते हैं। तो कहीं न कहीं वो हमारी इस पुकार को सुनकर। हमारे अंग संग साथी देती। है। बहुत अच्छा लगा। आपकी। कविता। पढ़ के। बहुत भावपूर्ण थी। आल। द बेस्ट? गॉड? ब्लेस? यू।
1
Swell user mugshot
0:000:00