Meera Kumar
@A-ZZ-0-23 · 3:56

Critics

नमस्कार आज जो है मैं क्रिटिसिज्म पर बात करूंगी क्रिटिसिज्म ऐसा पार्ट ऑफ लाइफ है हमारा कि अगर ये न हो तो शायद कोई भी इंसान सक्सेसफुल नहीं होगा डू यू थिंक दैट आपको लगता है ऐसा क्या कि क्रिटिसिज्म हमारे साथ 1 पार्ट ऑफ लाइफ है आप अपने इस पोडकास्ट के थ्रू मुझे बताना जरूर और मैं अपना व्यू आपको बताती हूं कि मेरे हिसाब से क्रिटिसिज्म बहुत जरुरी है आप तभी आगे बढ़ते हैं जब आपको क्रिटिसिज्म मिलता है जब तक आपकी लाइफ में सब कुछ सिर्फ तारीफ तारीफ होगी तो आप जिंदगी में कभी भी आगे नहीं बढ़ सकते हैं वैसे भी कहा जाता है कि 1 अच्छे झरने की आवाज तभी अच्छी होती है जब राह में जो है न पत्थर बहुत सारे होते हैं तब वो लगता है कि कल कल भरती करती हुई धारा बह रही है मैंने सही बात कही है शायद आप लोगों को लग रहा होगा जी हां अगर आप किसी झरने को भी ध्यान से सुनेंगे न तो रास्ते में जो हैं न बहुत सारे पत्थर आते हैं उनके जो 1 तरह से उनके लिए क्रिटिसिज्म के लिए खड़े हैं उनको रोकने के लिए खड़े हैं और जब तक कोई बाधा न हो रुकावट नहीं हो तब तक आप अगर कोई काम करते हैं तो आपको आपकी गलती का एहसास नहीं होता और आपको पता नहीं चलता है कि आप कहाँ पर क्या गलत कर रहे हैं तो आपके आसपास अगर ऐसा कोई इंसान हो जो बार बार आपकी गलतियों को दिखा रहा है तो उसको पॉजिटिव वे मिले हालांकि यह बात और है कि बहुत सारे इंसान ऐसे भी आपको मिलेंगे जो आपकी अच्छाई को भी न बुराई में काउंट करेंगे लेकिन 1 चीज हमेशा याद रखिए जब 1 ही बात को हर आदमी पॉइंट आउट एटलीस्ट आसपास के 23 आदमी अगर 1 साथ पॉइंट आउट कर रहे हैं तो वो क्रिटिसिज्म को आप पॉजिटिव में ले और उसको दूर करने की कोशिश करें क्योंकि अगर उस चीज को आपने दूर कर लिया उस हर्डल को आपने निकाल दिया तो बहुत आसान तरीके से आप आगे बढ़ते जाएंगे और अगर वो हर्डल आपको दिख भी रहा है और किसी ने उसकी बुराई नहीं की है और आप फिर भी आगे बढ़ रहे हैं तो कहीं न कहीं आपका वो आगे जाकर के स्टॉप या अवरोध जरूर होगा यह देखा गया है तो बेहतर है कि आपको अगर अपने काम में निखार चाहिए तो अगर आपके आसपास कुछ ऐसे कांटे हैं जो क्रिटिसिज्म को लेकर के आपके साथ चल रहे हैं तो उनको बहुत पॉजिटिव वे में लीजिये यकीन मानिए 1 तो लाइफ आपकी इजी हो जाएगी दूसरा मुफ्त में आपको आपकी गलतियों को आपके दुश्मन बहुत आसान तरीके से दिखा जाते हैं चाहे वो एक्सप्रेशन से दिखाएंगे चाहे वो बोल करके दिखाएं चाहे वो मौन रह कर के दिखाए पर वो दिखा जरूर देंगे क्योंकि जब भी इंसानी फितरत है जब कोई इंसान आगे बढ़ता है तो उसके क्रिटिसिज्म के लिए बहुत सारे लोग उनके पीछे चुपचाप हाथ बांधे खड़े होते हैं तो बेहतर है कि उसको आप पॉजिटिव वे में लेकर के आगे बढ़ने की कोशिश करें और मेरा ये पॉडकास्ट आप लोगों को कैसा लगा इसमे मैं जरूर जानना चाहूंगी आपकी क्रिटिसिजम कि कैसा है मैं आपको इसमें स्टोरी के साथ करूं या एग्जांपल के साथ करूं या यूं 1 छोटे छोटे सब्जेक्ट्स पर मैं बात करूं अगर आप मुझे बता देंगे तो मेरे लिए बहुत आसान हो जाएगा थैंक्स

#women #womenia #trending #society #meerakumar #friendship #love #happy #sad #motivational #inspiration #happiness #right #writing

Prashant Kumar
@smileypkt · 3:40

Use criticism for your growth

इस वेल कास्ट को बनाने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद मेरा जी और क्रिटिसिज्म को लेकर मैं जिस तरह से समझता हूँ और आपकी बातों से जो मैंने सीखा क्रिटिसिज्म को लेकर हमारा पर्स्पेक्टिव क्या है ये बहुत मैटर करता है कोई व्यक्ति हमको क्रिटिसाइज कर रहा है हम उसको किस तरीके से लेते हैं हम उसको अपने ग्रोथ को फ्यूल करने के लिए लेते हैं कि हम उस क्रिटिसिज्म का यूज करें अपने ग्रोथ को और तेज करने में अपनी जिंदगी को और बेहतर बनाने में या हम उस क्रिटिसिज्म को लेकर के खुद पर डाउट करना शुरू कर दे की नहीं मुझमें कुछ कमी तो नहीं है तभी तो लोग मुझे क्रिटिसाइज कर रहे हैं अगर आप अगर कोई व्यक्ति ग्रो कर रहा है और उसमें कुछ कमियाँ है भी और अगर वो क्रिटिसिज्म को पॉजिटिव वेमिना ले करके उस क्रिटिसिज्म के कारण परेशान रहने लगे तो वो क्रिटिसिज्म उसके किसी काम का नहीं होगा इसके बजाय अगर उस व्यक्ति में कमिया भी है तो उस क्रिटिसिज्म का यूज करना चाहिए उसको अपने आप को और बेहतर बनाने में और निखारने में जैसा आपने एग्जाम्पल भी दिया जब झरने के रास्ते में कंकड़ पत्थर आते हैं तो उन कंकड़ पत्थर से झरने जो होते हैं वो रुक नहीं जाते हैं वो उन कंकड़ पत्थर की सहायता से अपनी आवाज को और मधुर बना देते हैं जिससे वो और भी उनकी खूबसूरती बढ़ जाती है झरनों की तो जस्ट हमारे लिए भी यही तरीका काम करे और हम भी इसी तरीके से अप्रोच रखें लाइफ को लेकर तो बहुत बढ़िया और ये बहुत इम्पार्टेंट है जो क्रिटिसिज्म होता है हमारे ग्रोथ को फ्यूल करता है हमारे लिए फ्यूल की तरह काम करता है हमारे ग्रोथ के लिए की जितना ज्यादा हमको कंस्ट्रक्टिव क्रिटिसिज्म या पॉजिटिव क्रिटिसिज्म मिलता है हम उतना ज्यादा जल्दी ग्रो करते हैं बताया कि उस व्यक्ति के कि जिस व्यक्ति को अपने ग्रोथ के समय क्रिटिसिज्म न मिला हो उसको सामने से किसी ने किसी तरह का कोई क्रिटिसिज्म ना किया उस व्यक्ति का तो वो व्यक्ति अपनी फुल पोटेंशियल को एक्सप्लोर नहीं कर पायेगा लेकिन जब हमारा कोई क्रिटिसिज्म करता है हमारा हमको कोई क्रिटिसाइज करता है तो हम ये समझते हैं की नहीं मेरा जो पोटेंशियल है इससे बेहतर है और उसको एक्सप्लोर करते हैं और जब हमें वही क्रिटिसिज्म नहीं मिलता है तब हम अपने पोटेंशियल को पूरा एक्सप्लोर करने की कोशिश नहीं करते हैं क्योंकि हमको लगता है की जो भी चल रहा है ठीक चल रहा है मैं इतना ही ग्रो कर सकता हूँ लेकिन जब हमें सामने से 1 चैलेंज मिलता है क्रिटिसिज्म के तौर पे तब हम अपने आप को और बेहतर बनाने की कोशिश करते हैं और जल्दी बेहतर बनते हैं और बात रह गया की आप किस तरह से अपने स्वेल कास्ट को डिजाइन करें स्टोरी के फॉर्म में एग्जाम्पल के फॉर्म में या छोटे छोटे लेसंस के फॉर्म में तो स्टोरी इस वेरी इम्पॉर्टेंट स्टोरीज मेक्स अस मोर लर्नेबलस्टोरीज जो है न हमको और ज्यादा सिखाती है स्टोरीज के माध्यम से अगर हम कुछ भी सीखते हैं तो उसको जल्दी भूलते नहीं है मैंने ये अबजॉर्ब किया है कि किसी भी एग्जाम्पल में अगर स्टोरीज जुड़ा होता है न तो हम उस स्टोरी को रिमेंबर रखते हैं और उस स्टोरी के कारण वो लेसन भी याद रहता है और टफ टाइम में हम स् टोरी के सहायता से खुद को मोटिवेट भी करते हैं तो बहुत बहुत धन्यवाद ऐसे ही वेलेबल स्वेल कास्ट बनाते रहिये और सारे ऑडियंस को आप इंस्पायर करते रहिये
Meera Kumar
@A-ZZ-0-23 · 0:56

@smileypkt

सौरी मैं आपका नाम नहीं जानती हूँ आपका जो प्रोफाइल है उसमें स्माइल पैक लिखा हुआ है पर मैं 1 ही चीज कहूंगी थैंक्स फॉर योर वार्ड्स और आपको मेरी ये छोटी सी बात मोटीवेशनल लाइन पसंद आई इसके लिए में बॉटम ऑफ द हर्ट से शुक्रिया आदा करती हूँ और आशा करूंगी कि आगे भी मैं आपको और भी अच्छी अच्छी चीजें आप लोगों को ला कर के दे सकूं ताकि जो है आप लोगों को मेरी बातें अच्छी लगे और जितनी भी चीजें अच्छी लगे तो प्लीज इसको शेयर जरूर करिएगा ताकि और लोगों को भी फायदा हो क्योंकि जब 12 लोगों को कुछ हमारी बातों से फर्क पड़ता है न तो लगता है कि चलो हमारी जो भी सोच है थॉट्स हैं वो कहीं तो काम आई तो हम शायद इसीलिए इस छोटे छोटे प्लेटफार्म पर हम लोग काम करते हैं ताकि 1 दूसरे को मोटीवेट कर सके अपनी बातों से थैंक्स फॉर योर वार्ट्स
Swell Team
@Swell · 0:15

Welcome to Swell!

Meera Kumar
@A-ZZ-0-23 · 0:23

@smileypkt

हाँ जी अभी मैं आपके प्रोफाइल पर गई थी तो मैंने देखा आपका नाम प्रशांत कुमार है थैंक्स फॉर योर वार्ड्स प्रशांत जी आपको मेरी बातें अच्छी लगीं वंस अगेन तहे दिल से आपकी आपको शुक्रिया और मैं कोशिश करुंगी कि और भी कुछ अच्छी बातें ला सकूं ताकि आप लोगों को मेरी जो छोटी छोटी सोच है वो अच्छी लगे थैंक यू
Speaking Buddha
@Vivek.Padalia · 1:56

#vivekswellcastreply

बिल्कुल सही कहा आपने और जो टॉपिक है क्रिटिसिज्म और पार्ट भी हमारी लाइफ का बेसिकली क्या होता है कि जो समझने वाली बात है उसमें यह है कि जब हम कोई क्रिटिसिज्म या फीडबैक सुनते हैं तो हम उसको कैसे लेते हैं अगर हमने उसको पोस्टिव वे में अप लिया तो आपको यह आगे बढ़ने में मदद करता है और यदि हमने इसको निगेटिव ली या सही कंटेक् में नहीं समझा तो यह हमको उतना ही इमोशनली हमको डाउन करता है यह हमारे को डिमोटिवेट करता है तो यह बहुत जरूरी है इसको पोस्टिव मे लेना जहाँ तक मैं समझता हूँ और कहीं न कहीं यह हमारे फिर बहुत सारे अदर आस्पेक्ट्स हैं जो पर्सनैलिटी के जो हमारे बिहेवियर के उनसे जुड़ जाता है तो हेल्दी क्रिटिसिजम इज आलवेज seen as one of the most सक्सेस ful वे ग्रो तो प्रोमोट तो डevलpe तो इंट्रस्पेक्ट अगर यह न होगा तो र जैसा चल रहा है वैसा ही चलता रहेगा और आप कोई प्रोग्रेस कोई ग्रोथ करने में जो स बहुत समय लग जाएगा तो अगर आप और हम 1 फास्ट अप्रोच के साथ 1 हेल्दी एनवायरमेंट में 1 हेल्दी पॉजिटिविटी के साथ अगर क्रिटिसिज्म को लेते हैं तो यह हमारे लिए बहुत बहुत हेल्पफुल 1 फ्रेंड की तरह है तो थैंक यू फॉर कनेक्ट टचिंग दिस आस्पेक्ट थैंक यू वेरी मच
Meera Kumar
@A-ZZ-0-23 · 0:36

@Vivek.Padalia

थैंक्स फॉर योर वोर्टस मंजिल पर पहुंचने के लिए छोटे छोटे जो भी पड़ाव आते हैं, छोटे छोटे जो एप्रीसिएशन होते हैं, वो वाकई में कमाल का होता है। क्योंकि आपको लगता है कि उस एप्रीसिएशन के बिना शायद हम आगे नहीं जा सकते। जैसे क्रिटिसिज्म के बिना मेरे हिसाब से लोग आगे नहीं बढ़ सकते। आप अगर उसको पॉजिटिव वे मिलेंगे मैं हमेशा कहती हूँ तो आप आगे जाएंगे तो वैसे ही एप्रीसिएशन भी उतना ही जरूरी है। थैंक सर थैंक्स फॉर यू सपोर्ट।

0:00
0:00